What Is Bounce Rate ? 6 Ways To Reduce Website Bounce Rate

WHAT IS BOUNCE RATE?( बाउंस रेट क्या है?)

हमारा आज का topic बाउंस रेट (Bounce Rate)है। क्या होता है bounce rate ? इसको कैसे कम किया जाता है? आदि इन सब के बारे में हम आपको आज की इस पोस्ट में बताएंगे। अगर आपका कोई Blog या website है तो , आपको इस पोस्ट को पढ़ना बहुत जरूरी है क्योंकि इस पोस्ट में Blog और website से जुड़ी सबसे महत्वपूर्ण जानकारी bounce rate के बारे में आपको बताएंगे।तो आइए अब हम शुरू करते है।

Bounce Rate किसी website या blog पर उन visitors की percentage होती है जो website का कोई भी visitor एक page को visit करने के बाद ,उस website को leave कर जाते है यानी कि कोई भी visitor आपकी website के एक बार मे केवल एक ही page को visit करता है और फिर किसी और website या कही भी चला जाता है तो उसी को हम bounce rate कहते है।

 

अगर आपका कोई blog या website है तो आप हमेशा अपनी site की Global rank ,indian rank । page per visitor जरूर check करते होंगे। तो आपको bounce rate की भी थोड़ी तो जानकारी जरूर होगी ,और अगर आपको ज्यादा जानकारी नही भी है तो कोई बात नही हम बता देते है।

Bounce rate की बात करे तो ,हमारी website में जितनी कम percent होगी bounce rate उतना ही हमारी website के लिए अच्छा होता है। जैसे माना कि हमारी website का bounce rate 55% है तो इसका मतलब होता है कि हमारी website को visit करने वाले total number of visitors में से 55% vistors ऐसे है जो कि हमारी website या blog पर केवल कोई भी एक page पर ही visit किये। तो हमारी website का bounce rate जितना कम होगा ,उतना अच्छा होगा।

बहुत ही कम ऐसी websites है ,जिनका bounce rate 10% से कम है। 10% से कम bounce rate वाली sites लाखो में कोई एक ही होती है। जिनकी website का 90% से ज्यादा bounce rate होता है ,तो समझ जाइये आपकी website में लोगो को कोई interest नही है। वैसे bounce rate का minimum level 40% से 80% तक ही होता है। अगर इससे ज्यादा है तो समझ जाइये आप अपनी website में कुछ न कुछ गलतियां जरूर कर रहे है , जिस वजह से आपकी website को लोग पसन्द नही कर रहे है । आगे हम आपको बताएंगे कि bounce rate कम कैसे की जाती है।

 

WHAT SHOULD BE THE BOUNCE RATE?( बाउंस रेट कितनी होनी चाहिए?)

अब हम आपको बताएंगे कि website का bounce rate कितना होना चाहिए। कितना bounce rate आपकी website के लिए बुरा है । यह सब जानकारों अब हम आपको देंगे । बाउंस रेट को समझने के लिए हमने इसको 4 हिस्सो में बाटा है।

पहला है 1% से 10% तक । इस bounce rate के अंदर कोई website या blog है तो वह दुनिया की सबसे successful website की list में आती है।

इसके बाद अगर कोई website को 10% से 40% तक की bounce rate प्राप्त होती है तो वह website भी बहुत ही अच्छी मानी जाती है।

वही 40% से 70% तक कि कोई website की bounce rate होती है तो उन websites को बहुत अच्छा तो नही , मगर ठीक चलने लायक होती है। लेकिन हम सब websites की बात करे तो सभी 75% से 80% की category में ही आती है।

 

और अब आखरी जिसकी 90% से ज्यादा bounce rate होती है। वह website तो बिल्कुल ही ठीक नही होती। और उन्हें अपनी website पर बहुत मेहनत करने की जरूरत है।

अगर आप सोच रहे है कि सभी website की bounce rate एक ही होती है ,तो इसका जवाब है नही । website सब अलग अलग तरह की होती है ,तो उनकी bounce rate भी अलग अलग होती है। लेकिन किस तरह की website के लिए कितनी bounce rate होनी चाहिए ,तो उसके बारे में हम आपको बताते है।

जो website Content वाली होती है उसका Bounce Rate  40% से 60% तक होना चाहिए।

ऐसे ही Lead generate करने वाली website का Bounce Rate  30% से 50% तक होना चाहिए।

 

business करने वाली website के लिए 20% से 40% तक Bounce Rate होना चाहिए।

अगर कोई service provide करने वाली website है तो उसकाBounce Rate 10% से 30% तक का होना चाहिए।

जितनी हमने बताई bounce rate किस website की कितनी bounce rate होनी चाहिए । लेकिन आप जितना हो सके अपनी website में bounce rate को कम से कम करने की कोशिश करे। bounce rate जितनी कम होगी आपकी website के लिए उतना अच्छा होगा।

तो अब हम बात करते है कि , बाउंस रेट  को कम कैसे किया जाए? नीचे अब हम आपको कुछ tips देंगे जिससे आप अपनी website की bounce rate को कम कर सकते है।

 

 

WHAT SHOULD BE THE BOUNCE RATE?( बाउंस रेट कितनी होनी चाहिए?)

अब हम जानेंगे कि, bounce rate को हम कैसे reduce कर सकते है।

सबसे पहले तो हम यह जान ले कि , bloggers क्या गलतिया करते है,जिस वजह से उनकी website की bounce rate ज्यादा होती है।

तो यह गलतिया करते है bloggers अपनी website में:-

सबसे पहली website का loading time ज्यादा होना।

Single page website होना।

content quality खराब होना।

visitors को inter link पसन्द आनी चाहिए।

Traffic के लिए गलत keywords का इस्तेमाल करना।

users को पसंद ना आने वाले content का होना।

website का design अच्छा ना होना।

formating का खराब होना।

और content की headings का अच्छा ना होना।

तो यह सब गलतियाँ करते है bloggers जिस वजह से उनकी website में bounce rate ज्यादा होती है।

अगर आप franchise business मे रुचि रखते है तो यहाँ क्लिक करे

 

6 Ways to Reduce Bounce Rate on Your Website (तो आप सभी इन 6 तरीको से अपनी वेबसाइट का bounce rate कम कर सकते है?)

तो अब हम आपको बताएंगे कि bounce rate को कम कैसे करते है।

6 Ways to Reduce Bounce Rate on Your Website
6 Ways to Reduce Bounce Rate on Your Website

(1) website का design और look wise अच्छी होनी चाहिए:- आपकी website का design और look अच्छा होना बहुत जरूरी होता है ,क्योंकि जब भी हमको कोई चीज देखने मे अच्छी attractive लगती है ,तब ही हम उस चीज को देखना और लेना पसंद करते है । ठीक उसी तरह website में भी होता है । जब कोई visitor रोकी website को visit करेगा तो उसको आपकी website देखने मे attractive लगेगी और आपके content भी उसको पसन्द आएंगे तब ही कोई visitor आपकी website पर visit करेगा अन्यथा वह site leave कर देगा। तो सबसे पहले आप अपनी website को अच्छे colour combination होना चाहिए और website का design भी अच्छा अच्छा होना बहुत जरूरी है।

Font colour का चुनाव सही से करे ,आपके font colour bright नही होने चाहिए जैसे red , green आदि क्योंकि इन colour के कोई words हम पढ़ते है तो आंखों पर जोर देकर पढ़ना पड़ता है । आपके font colour ज्यादातर black ही होना चाहिए ताकि visitors उनको आसानी से पढ़ सके।

Text size:- जो भी content आप लिख रहे है उसका text size बड़ा होना चाहिए । ज्यादा छोटा नही होना चाहिए क्योंकि ज्यादा छोटा होने से visitors उसको आसानी से पढ़ नही पाएंगे।

हमेशा आपकी website का design ज्यादा भरा हुआ नही ,simple होना चाहिए।ज्यादा animation से भरी नही website होती है तो वह भी अच्छी नही लगती । तो अपनी website को readers friendly बनाये।

 

 

(2) Page load time :- जितना हो सके आपकी website का page load time कम होना चाहिए। अगर ज्यादा होता है page load time तो visitors को blog तक phuchne में बहुत wait करना होगा और इसकी वजह से आते हुए visitors आपकी website को चले जायेंगे।

अगर आपकी website का page load time 1 second से कम है तो इसका मतलब वह perfect है।

और अगर 1 second से 3 second तक है तो इसका मतलब है कि वह average के above है।

अगर 3 second से 7 second तक का time है तो इसका मतलब average है।

और अगर 7 second से ज्यादा है तो वह poor है।

अगर आपको ज्यादा से ज्यादा visitors चाहिए अपनी site पर तो आपको अपना page load time perfect या above average रखना होगा। अपने page में आप limited images रखे और कम size का image का use करे जिससे page load time कम होगा।

 

(3) Contant Quality:- अगर आपकी website में आप अच्छे quality वाले content डालेंगे , तो आपकी website को successful होने में काफी मदद मिलेगी। अपनी website की successful बनाने के लिए आपको branded और valuable content पर ज्यादा ध्यान देना पड़ेगा। उसमे आपको थोड़ा time लगेगा लेकिन आपकी website को आप successful बना सकते है। अगर आपका content quality वाला नही होगा तो visitors आपकी website पर visit नही करेंगे। हमेशा आपकी website पर जो भी content आप डाल रहे है उस content में आप सही information दे । अगर आप अपने content में गलत information देंगे तो जो visitors आपके content को पड़ेंगे वह भी गलत जानकारी प्राप्त करेंगे तो हमेशा सही जानकारी दे और लिखने में spelling mistake नही होनी चाहिए। आपका content 500 से 1000 word का होना चाहिए और simple language में होना चाहिए ताकि visitors को आपका content पढ़ने में परेशानी न हो।

 

(4) content heading:- आपके content की heading हमेशा सही होनी चाहिए । मतलब जिस topic पर अपने content लिखा है उसी से related heading होनी चाहिए। अक्सर bloggers यह करते है कि जिस topic और content लिखते है मगर heading उससे related नही होती है । तो इस बिल्कुल न करे सही heading का इस्तेमाल करे। अगर आपकी heading कुछ और होगी और topic कुछ और होगा तो visitos का रोकी website पर से भरोसा उठ जाएगा और वह दुबारा आपकी website पर visit नही करेगा।

(5) Content formating:- जब भी content लिखे उसको अच्छे से लिखे। मतलब post का formatting अच्छा होना चाहिए। जब post को आप edit करे तब जो tag डालते है उन पर थोड़ा ध्यान दे। paragraph formatting पर ध्यान दे क्योंकि paragraph ज्यादा बड़ा होगा तो visitor जो आपकी post को पड़ेगा उसको ज्यादा बड़ा paragraph देखकर boring लगेगा। तो ज्यादा बड़ा paragraph न रखे। और जिस word को bold करने की जरूरत है उसे bold जरूर करे। ताकि visitors का focus बढे।

 

(6) Inter link:- आपकी post में आप interlink जरूर डाले । अगर आपके post म3 interlink नही होगा तो visitor केवल वही post पढ़के चला जायेगा । अगर आपकी post में interlink होगा तो visitor को interest आएगा तो आपकी और भी post वह पड़ सकता है।

 

आपकी website का हर page unique motive का होना चाहिए।

अपने content में हमेशा proper heading , subheading को जरूर use करे।

content में particular niche readers को ही target करना चाहिए और इसके लिए आपको niche specific keyword का ही इस्तेमाल करे।

 Read more- What is facebook campaign?

अपने content को हमेशा error free रखे।

अपनी website का बाउंस रेट  जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

अपने content में media का भी proper इस्तेमाल करे। जैसे:- images , vedios.

तो अब आप जान ही गए होंगे कि bounce rate क्या होता है। इसको कैसे कम किया जा सकता है । क्या क्या गलतिया नही करनी चाहिए content डालते समय आदि। आशा करता हूं कि आपको हमारी post पसन्द आई हो ।

Leave a Comment